newsdog Facebook

Corona Live Update : फसल कटाई के लिए सरकार ने दिए दिशा-निर्देश

Patrika 2020-03-25 22:37:15

कोटा. कृषि विभाग ने रबी फसलों की कटाई एवं थ्रेसिंग कार्य के दौरान कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए सोशल डिस्टेंसिंग का सख्ती से पालन करने, मुंह पर मास्क लगाने और फसल कटाई उपकरणों एवं खाने-पीने के बर्तनों के उपयोग में पूरी सावधानी बरतने सहित विभिन्न दिशा-निर्देश जारी कि हैं। कोटा जिला कलक्टर ओम कसेरा ने काश्तकारों से फसल कटाई के दौरान कोविड-19 के खतरे को दूर करने के लिए विभागीय दिशा-निर्देशों की पूरी पालना करने का आग्रह किया है।

Read More : कोराना महामारी के संकट के बीच चैत्र नवरात्र शुरू,कोरोना
को हराने
भक्तों ने घर पर ही की देवी मां की अराधना

उन्होंने कहा कि विभागीय दिशा-निर्देशों के मुताबिक फसल कटाई यथा संभव मशीन चलित उपकरणों से करें। हाथ से चलने वाले उपकरण काम में लेने पर उपकरणों को दिन में कम से कम तीन बार साबुन के पानी से कीटाणु रहित करें। उन्होंने कहा कि किसान फसल कटाई में सामाजिक दूरी (सोशल डिस्टेंसिंग) की सख्ती से पालना करें। खेत में फसल काटने एवं खाना खाते समय एक व्यक्ति से दूसरे के बीच कम से कम 5 मीटर की दूरी रखें। खाने के बर्तन अलग-अलग रखें तथा प्रयोग के बाद साबुन के पानी से अच्छी तरह साफ करें। उन्होंने बताया कि कटाई के दौरान सभी व्यक्ति अपनी अलग-अलग पानी की बोतल रखें और मुंह पर मास्क का प्रयोग करें। खेत में पर्याप्त मात्रा में पानी एवं साबुन की व्यवस्था रखें।

Read More : कोटा मेडिकल कॉलेज में शुरू हुई कोरोना वायरस की जांच

उन्होंने बताया कि फसल कटाई के दौरान एक व्यक्ति की ओर से काम में लिए जाने वाले उपकरणों को दूसरा व्यक्ति कतई काम में नहीं लें। कटाई करने वाले सभी व्यक्ति अपने-अपने उपकरण ही काम में लेवें। साथ ही कटाई के दौरान बीच-बीच में अपने हाथों को साबुन के पानी से अच्छी तरह साफ करते रहें। उन्होंने बताया कि फसल कटाई कार्य अवधि में पहले दिन पहने कपड़े दूसरे दिन काम में न लें। काम में लिए कपड़ों को अच्छी तरह धोकर धूप में सुखाने के पश्चात ही पुन: काम में लें।

Corona live update : यात्री ट्रेन सेवाएं अब 14 अप्रेल तक रद्द रहेंगी

अगर किसी व्यक्ति को खांसी, जुकाम, बुखार, सिर दर्द, बदन दर्द आदि के लक्षण हो तो उसे फसल कटाई कार्य से अलग रखें और तुरंत नजदीकी स्वास्थ्य कर्मी को सूचित करें। उन्होंने कहा कि थ्रेसिंग कार्य के दौरान भी इसी प्रकार सोशल डिस्टेंसिंग, मास्क एवं खाने-पीने के बर्तनों के प्रयोग आदि में सभी सावधानियों का पूर्ण गंभीरता से पालन करें।