newsdog Facebook

पाली में अन्तर्राज्य शातिर वाहन चोर गिरोह का पर्दाफाश, आरोपियों ने कबूली कई वारदातें

Patrika 2020-07-16 19:36:09

पाली/बाबरा। जिले के रास थाना पुलिस ने गत दिनों नाकाबंदी, सघन तलाशीव गश्त के दौरान तीन संदिग्ध व्यक्तियों को जीप के साथ दस्तयाब कर संदिग्धों से पुछताछ शुरू की तो चोरी की जीप होना सामने आया। इस पर पुलिस ने तीनों सदिग्धों को शांतिभंग में गिरफ्तार किए जाने के बाद उन्हे भीलवाड़ा जिले के रायला थाना पुलिस को तीनों वाहन चोरों को चुराई जीप के साथ सुुपुर्द किया। आरोपियों ने पुलिस पुछताछ में अजमेर, भीलवाड़ा, राजसमंद व बूंदी जिलों में वाहन चोरी की 10 वारदातें करना स्वीकार किया है।

रास थानाप्रभारी सुरेन्द्र कुमार दुगस्तावा ने बताया कि पुलिस गश्त वसघन तलाशी के दौरान बीती रात ढाई बजे बाबरा सरहद में ब्यावर की ओर से आ रही बिना नम्बरी जीप को रूकवाकर उसमें बैठे व्यक्तियों द्वारा अलग-अलग नाम, पता व पहचान छुपाने पर पुलिस जाब्ता से उलझने पर पुलिस ने अजमेर जिले के मसूदा थाना क्षेत्र के रूपायली निवासी सायरसिंह उर्फ मुकेश (23) पुत्र बाबुसिंह रावत, जिले के आनन्दपुर कालु थाना क्षेत्र के पिपाड़ा निवासी मुकेश चौहान (24) पुत्र नाथुराम बावरी, अजमेर जिले के मसूदा थाना क्षेत्र के देवपुरा निवासी टीकमसिंह उर्फ कुका (20) पुत्र छगनसिंह रावत को शांतिभंग के आरोप में गिरफ्तार कर बिना नम्बरी एक जीप को एमवी एक्ट में थाने पर लाकर तीनों संदिग्धों से पुछताछ की गई तो वाहन चोरी की प्रदेश के अन्य जिलों पर वारदातें करना सामने आया। इस पर पुलिस ने वाहन चोरी के आरोप में शातिर तीनों अन्तरराज्य चोर गिरोह को शांतिभंग में गिरफ्तार कर तीनों आरोपियों को भीलवाड़ा जिले के रायला थाना पुलिस को चुराई जीप बरामद कर उन्हे सुपुर्द किया है। रायला थाना क्षेत्र से आरोपियों ने गत दिनों जीप चुराई थी।

वाहन चोरी का तरीका
थानाप्रभारी दुगस्तावा ने बताया कि आरोपियों से प्रारंभिक पूछताछ में बताया कि घरों के बाहर खड़े रहने वाले टै्रक्टर, कैम्पर व जीप आदि की चोरी करने से पहले रात्रि में रैकी कर आने-जाने वाले रास्ते चिन्हित कर वाहन चोरी की वारदात को अंजाम दिया करते थे। इसमें भी वारदात में आरोपियों द्वारा ट्रैक्टर चुराने में ज्यादा पसंद रखते थे।

इनके प्रयास से खुली वारदात
रास थानाप्रभारी सुरेन्द्र कुमार दुगस्तावा, मुख्य आरक्षी उमराव खान, आरक्षीनौरताराम, आरक्षी मनोहर, आरक्षी लालचंद मय पुलिस टीम के प्रयास से वाहनचोरो को पकडऩे में सफलता मिली।

स्वीकार की ये वारदातें
राजसमंद जिले के भीमथाना क्षेत्र से 6 माह पहले ट्रैक्टर चोरी, भीलवाड़ा जिले के शाहपुरा थाना क्षेत्र में टै्रक्टर चोरी, आसीन्द थाना क्षेत्र के हरीपुरा रोड से पांच माह पूर्व ट्रैक्टर चोरी, बूंदी से पांच माह पूर्व ट्रैक्टर चोरी, भीलवाड़ा जिले के आसीन्द से सामान से लदी बौलेरो कैम्पर, आसीन्द से टै्रक्टर चोरी, भीलवाड़ा के शंभुगढ़ से ट्रैक्टर चोरी, रायला भीलवाड़ा से महिन्द्रा थार जीप चोरी, अजमेर जिले के ब्यावर सदर थाना क्षेत्र से ट्रैक्टर चोरी व भीलवाड़ा जिले के माण्डल रोड बिगोद से करीब पन्द्रह दिन पहले ट्रैक्टर चोरी की वारदातें करना स्वीकार किया है। इसमें चोरी किए वाहनों को लेकर पांच मुकदमें तो विभिन्न पुलिस थानों में दर्ज हो रखे है।