newsdog Facebook

Chirag Paswan on Indiatv says LJP is not Vote Katwa in Bihar Elections

India TV Hindi 2020-10-16 13:41:09
Chirag Paswan

बिहार चुनाव अपने शबाब पर है। एक ओर सीएम नीतीश कुमार और बीजेपी का एनडीए गठबंधन है, वहीं दूसरी ओर आरजेडी का महागठबंधन ताल ठोक रहा है। इस बीच चिराग पासवान की लोक जनशक्ति पार्टी द्वारा अलग से करीब 140 सीटों पर चुनाव लड़ने की घोषणा ने राजनीतिक पार्टियों के माथे पर बल ला दिया है। केंद्र में एनडीए के सहयोगी से सीधा मुकाबला होते देख बीजेपी भी हैरान है। इस बीच उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी ने एलजेपी को वोटकटवा करार दिया है। 

सुशील मोदी के इस बयान पर इंडिया टीवी से बात करते हुए चिराग पासवान ने कहा कि सुशील मोदी के वोट कटवा बयान से काफी दुखी हूं। पिताजी कहते थे कि अकेले हो तो जंगल को चीर कर आगे निकले। मैं शेर के बच्चे की तरह जंगल चीरने निकला हूं। उन्होंने कहा कि सुशील मोदी पापा के सहयोगी रहे हैं। सुशील मोदी के बयान से पापा को दुख होता। पापा काफी उतार चढ़ाव के बाद इस पार्टी को यहां लेकर आए हैं। अलग चुनाव लड़ने का निर्णय भी उन्हीं का है।


नीतीश जी ने मुझे लोकसभा चुनाव में हराने का प्रयास किया

चिराग पासवान ने इंडिया टीवी को बताया कि खुद उनके लोकसभा क्षेत्र जमुई में उन्हें हरवाने के लिए प्रयास किया गया। इसके अलावा उनके चारा पारस को हाजीपुर से हराने वैशाली में वीना, नवादा में चंदन तथा संस्तिपुर मे रामचंद्र जी को हराने का प्रयास किया गया। चिराग पासवान ने कहा कि उन्होंने विश्वासघात हमारे साथ किया, खुद उनके पिता ने मुख्यमंत्री को फोन करके बताया कि आपके लोग हमारे साथ गलत कर रहे हैं। चिराग पासवान ने यहां तक कहा कि जब उनके पिता स्वर्गीय रामविलास पासवान के राज्यसभा में चुनाव की बात आई तो उस समय भी मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने साथ नहीं दिया। चिराग पासवान ने इंडिया टीवी को बताया कि लोकसभा चुनाव के दौरान जब सीटों का बंटवारा हुआ तो तय हुआ कि भाजपा और जेडीयू 17-17 पर चुनाव लड़ेंगे और 6 सीटों पर लोजपा लड़ेगी, उसी समय अमित शाह जी ने घोषणा की थी कि बिहार से राज्यसभा की पहली सीट होगी वह रामविलास पासवान जी को जाएगी। लेकिन जब राज्यसभा चुनाव में नामांकन का समय आया तो नामांकन से ठीक पहले मुख्यमंत्री जी का संदेश मेरे पिता जी के पास आता है कि वे नाराज हैं और उन्हें जानकारी नहीं दी गई राज्यसभा की इस सीट के बारे में।

बीजेपी के साथ सरकार बनाने का दावा 

चिराग पासवान ने कहा कि चुनाव जीतने के बाद बीजेपी एलजेपी की सरकार बनेगी। उन्होंने कहा कि मेरी लड़ाई सीटों की संख्या पर नहीं है। मेरीे इस बारे में किसी भी भाजपा नेता से बात नहीं हुई है। बिहार के विकास के लिए बिहार फस्ट बिहारी फस्ट की मांग की थी। नीतिश के सात निश्चय से बिहार का भला नहीं हो सकता। उनके लिए बिहार में विकास के मानदंड काफी छोटे हैं। 

केंद्र के साथ रहेगा साथ

चिराग पासवान ने कहा कि यह पहली बार नहीं है जब केंद्र में गठबंधन होने के बाद भी एलजेपी अलग से चुनाव लड़ रही है। झारखंड में हमने अलग से चुनाव लड़ा था। हम केंद्र सरकार में नरेंद्र मोदी के गठबंधन में हैं। मोदी जी के साथ हमारा सहयोग है और आगे भी रहेगा। 

साथ लड़ा था लोकसभा चुनाव

2019 के लोकसभा चुनाव के दौरान बिहार में भारतीय जनता पार्टी, जनता दल यूनाइटेड और लोक जनशक्ति पार्टी ने मिलकर चुनाव लड़ा था और राज्य की 40 सीटों में से भाजपा तथा जेडीयू ने 17-17 सीटों पर अपने प्रत्याशी उतारे थे जबकि लोकजनशक्ति पार्टी ने 6 सीटों पर उम्मीदवार दिए थे। चुनाव परिणाम जब आए तो भाजपा और लोजपा के सभी 17 और 6 प्रत्याशी जीते थे जबकि जनता दल यूनाइटेड के 16 प्रत्याशियों की जीत हुई थी और 1 की हार।

 

कोरोना से जंग : Full Coverage