newsdog Facebook

जम्मू-कश्मीर के संविधान को लूटा गया, जवाहरलाल नेहरू के पास था विजन: महबूबा मुफ्ती

Haribhoomi 2020-11-21 07:46:59
X

जम्मू-कश्मीर की तमाम पार्टियों के बीच हुए गुपकार समझौते को लेकर अब्दुल्ला परिवार और महबूबा मुफ्ती लगातार भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) नेताओं के निशाने पर हैं। केंद्रीय गृह मंत्री ने हाल ही में गुपकार समझौते में शामिल पार्टियों को 'गुपकार गैंग' कहा था। साथ ही उन्हें देश विरोधी बताया था। इन्हीं सब मुद्दों पर राज्य की पूर्व सीएम महबूबा मुफ्ती ने एक अखबार के पत्रकार से बात की। वरिष्ठ पत्रकार से बातचीत करते हुए पूर्व सीएम ने कहा कि भाजपा लोगों के असंतोष और वास्तविक मुद्दों को खारिज करने का प्रयास कर रही है। यह वास्तविक मुद्दों से हटने की रणनीति है।

महबूबा मुफ्ती ने यह भी कहा कि जवाहरलाल नेहरू के पास विजन था, उनके पास कोई विजन नहीं है। दुर्भाग्य से अधिकांश मीडिया बीजेपी के प्रोपेगंडा की बात करती हैं। जम्मू-कश्मीर के संविधान को लूटा गया है। महबूबा मुफ्ती ने गुपकार समझौते को लेकर कि हम सभी मुख्य धारा के दल हैं।हमने जम्मू-कश्मीर के संविधान की रक्षा करने की शपथ ले रखी है। मेरे पिता ने उस समय तिरंगा फहराया था जब ये एक टैबू हुआ करता था। हम उसका बचाव करेंगे।

इसके अलावा महबूबा मुफ्ती ने चुनाव के मुद्दे पर कहा कि हम कोई चुनाव नहीं लड़ेंगे। मैंने कहा था कि मैं तब तक चुनाव नहीं लड़ूंगी जब तक जम्मू-कश्मीर का झंडा बहाल नहीं हो जाता।