newsdog Facebook

बालों के लिए एक सुपरफूड है पालक, जानें इसके और भी हैरान करने वाले फायदे

Gyan Hi Gyan 2021-01-11 20:42:33

पालक एक ऐसी सब्जी है जो बच्चों द्वारा या मुंह से सुनी जा सकती है, लेकिन पालक खाना सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होता है। क्योंकि पालक अमीनो एसिड, विटामिन ए, सी, ई, के, आयरन, आयोडीन, मैग्नीशियम और पोटेशियम से भरपूर होता है। इतना ही नहीं, बच्चों को खिलाने और उनकी संपत्ति बढ़ाने के लिए प्रसिद्ध अमेरिकी कार्टून चरित्र पोपी को बनाया गया था। पालक खाने से उन्हें वो ताकत मिलती है जिससे उन्हें हर समस्या से लड़ने की जरूरत होती है। इसलिए आज हम आपको पालक खाने के कुछ ऐसे ही फायदे बताने जा रहे हैं। जिसकी मदद से आप न केवल अपनी बीमारियों को आसानी से हरा सकते हैं, बल्कि उन्हें मिटाने में भी सफल हो सकते हैं।

पालक के रोजाना सेवन से एनीमिया में आयरन की कमी को आसानी से दूर किया जा सकता है, क्योंकि पालक को आयरन का सबसे अच्छा स्रोत माना जाता है। दरअसल, आर्यन हमारे शरीर के खून में ऑक्सीजन पहुंचाने का काम करते हैं। आयरन हमारी शारीरिक कमजोरी से भी छुटकारा दिलाता है।

आयरन के अलावा, पालक में आवश्यक पोषक तत्व होते हैं जैसे कि एंटीऑक्सिडेंट ल्यूटिन और ज़ेंथिथिन। यह आंखों की रोशनी और आंखों से संबंधित समस्याओं को ठीक करने में फायदेमंद है। इतना ही नहीं, पालक में मौजूद विटामिन हमारी झिल्लियों को मजबूत रखने और सामान्य दृष्टि के लिए भी सहायक होता है।

त्वचा और पेट के कैंसर उनके गुणों की वजह से बहुत फायदेमंद होते हैं क्योंकि इनमें फ्लेवोनोइड्स और फाइटोन्यूट्रिएंट्स कैंसर विरोधी गुण होते हैं, जो शरीर की कोशिकाओं के विघटन की प्रक्रिया को धीमा कर देते हैं और एक सुरक्षात्मक घेरा बनाते हैं। जो शरीर को कैंसर के दुष्प्रभावों से बचाता है।

विटामिन बी, सी, ई, पोटेशियम, कैल्शियम और फैटी एसिड जैसे पोषक तत्व बालों के विकास और मजबूती के लिए आवश्यक हैं, इसलिए पालक को बालों के लिए एक सुपरफूड भी माना जाता है। इसके अलावा पालक में मौजूद आयरन बालों को जड़ों से जोड़ने में भी भूमिका निभाता है।

सामान्य तौर पर, हम हमेशा अपनी हड्डियों को मजबूत बनाने और शरीर में कैल्शियम की कमी से निपटने के लिए डेयरी उत्पादों का उपयोग करते हैं। जबकि पालक के रोजाना सेवन से हम शरीर की इस कमी को आसानी से दूर कर सकते हैं। इसके अलावा मांसपेशियों के ऊतकों के निर्माण और विकास के लिए उच्च मात्रा में प्रोटीन की भी आवश्यकता होती है।