newsdog Facebook

गंभीर कोरोना का मरीज एक माह के इलाज के बाद स्वस्थ होकर घर लौटा

Press Note 2021-01-13 17:02:10

उदयपुर। कोरोना संक्रमित गंभीर मरीज को जीबीएच अमेरिकन हाॅस्पीटल के आईसोलेषन विंग से एक माह के इलाज से स्वस्थ करके घर भेजा गया। डाॅक्टर्स को दावा है कि इस तरह का गंभीर मरीज स्वस्थ होकर लौटने का प्रदेष का पहला मामला है। 
पिछले दिनों जीबीएच अमेरिकन हाॅस्पीटल में नीमच निवासी 53 वर्षीय व्यक्ति को परिजनों ने लाकर भर्ती कराया था। वह खांसी, जुकाम, बुखार और श्वास लेने में दिक्कत की षिकायत पर नीमच के हाॅस्पीटल में भर्ती हुए थे। वहां कोरोना पाॅजीटिव रिपोर्ट होने और कोई फायदा नहीं होने पर परिजन उन्हें यहां जीबीएच अमेरिकन हाॅस्पीटल लेकर पहुंचे। यहां मरीज का आॅक्सीजन लेवल 45 से 50 प्रतिषत के बीच ही था जबकि सीटी स्कैन स्कोर 25 मे से 25 था। यह स्थिति कोरोना मरीज के लिए गंभीर होती है। मरीज का डायमर टेस्ट रिपोर्ट 15000, आईएल-6 5000 और सीआरपी 700 से अधिक था। ऐसे में मरीज को कोविड आईसीयू में गहन चिकित्सा विषेषज्ञ एवं आईसीयू प्रभारी डाॅ. विजय आमेरा के नेतृत्व में इलाज शुरू किया गया। मरीज मोटापे, ब्लड प्रेषर और थायरोइड की बीमारी से भी ग्रसित थे। इस पर मरीज को एंटीबायोटिक्स, एंटीवायरल, स्टीरोइड्स, खून पतला करने की दवाइयां और प्लाज्मा थैरेपी दी गई। साथ ही मरीज को एनआईवी तकनीक से लगातार आॅक्सीजन देकर आॅक्सीजन लेवल मेंटेन किया गया। इस तरह मरीज को एक माह तक उपचार देकर कोरोना मुक्त किया गया और स्वस्थ करके घर भेजा गया। डाॅ. आमेरा ने बताया कि यह उदयपुर संभाग ही नहीं प्रदेष का पहला मामला होगा जिसमें 25 सीटी स्कैन स्कोर, 45 से 50 आॅक्सीजन लेवल रहा हो और मरीज कोरोना मुक्त होकर स्वस्थ घर लौटा हो।