newsdog Facebook

भूपेश बघेल ने कहा- 'नए कृषि कानूनों से पूंजीपतियों को फायदा होगा, किसानों को नहीं'

News Track Hindi 2021-01-14 08:40:18

मुंबई: महाराष्ट्र के अहमदनगर जिले के संगमनेर में आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कुछ ऐसी बातें कहीं जो इस समय चर्चा का विषय बन चुकीं हैं। जी दरअसल इस दौरान कार्यक्रम में उन्होंने कहा कि, 'केंद्र के नए कृषि कानूनों से पूंजीपतियों को फायदा होगा, न कि खेती करने वाले किसानों को, यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि किसानों को एनडीए सरकार द्वारा परेशान किया जा रहा है।' आपको बता दें कि इस कार्यक्रम में महाराष्ट्र के मंत्री बालासाहेब थोरात और जयंत पाटिल भी मौजूद थे।

वहीँ इस दौरान कांग्रेस सीएम ने केंद्र पर आरोप लगाते हुए कहा, 'वह जानबूझकर उन किसानों की अनदेखी कर रहा है जो पिछले साल सितंबर में संसद द्वारा पारित किए गए नए कृषि-विपणन कानूनों के खिलाफ दिल्ली के बाहर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं।' आगे अपने बयान में बघेल ने यह भी कहा कि, 'कांग्रेस नेता राहुल गांधी द्वारा परिकल्पित न्‍याय योजना (गरीबों के लिए न्यूनतम आय गारंटी योजना) ने छत्तीसगढ़ के विकास को गति दी है।'

इसके अलावा मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने महाराष्ट्र के ग्रामीण इलाके में लेटर्स कोऑपरेटिव मॉडल पर थोराट की प्रशंसा की। तारीफ़ करते हुए उन्होंने कहा, 'यह छत्तीसगढ़ और देश के अन्य राज्यों के लिए भी ये उपयोगी होगा। इस कार्यक्रम के दौरान ग्लोबल टीचर प्राइज विजेता रंजीतसिंह डिसाले को भी सम्मानित किया गया।' वैसे आप सभी को याद हो तो बीते दिनों ही भूपेश बघेल ने यह भी कहा था कि, 'केंद्र सरकार को नए कृषि कानून रद्द कर देने चाहिए। सुप्रीम कोर्ट द्वारा कानून वापस लेने का आदेश देने पर सरकार को ऐसा करना ही होगा।'