newsdog Facebook

गेंडे ने रौंदा गन्ने का खेत दो एकड़ में लगे गेंहू फसल को भारी नुकसान

Swatantra Prabhat 2021-01-14 18:47:55
बगहा-अनुमंडल-के-वाल्मीकिनगर-वनप्रमण्डल-2-के-संतपुर-सोहरिया-पंचायत-में-इन-दिनों-जंगली-भीमकाय-गेंडे-से-ग्रामीण-सहित-किसान-परेशान-हो-चले-हैं।


(नसीम खान “क्या”)

बगहा अनुमंडल के वाल्मीकिनगर वनप्रमण्डल 2 के संतपुर सोहरिया पंचायत में इन दिनों जंगली भीमकाय गेंडे से ग्रामीण सहित किसान परेशान हो चले हैं।


किसान पहले तो हिरन,नीलगाय व दूसरे जंगली जानवरों के द्वारा खेत चरने से परेशान थे, अब इन दिनों गेंडे की चहलकदमी व खेतों में लगे फसल को बरबाद करने से परेशान हो रहे हैं।

हालांकि इस बाबत किसानों ने वनकर्मी को फसल के हुए नुकसान को दिखाया भी है। संतपुर निवासी किसान केदार काज़ी ने बताया कि पहले ही किसान धान की फसल के नुकसान से उबर नहीं पाया है,

की गेंहूँ के लहलहाते खेत को गेंडे के द्वारा बर्बाद किए जाने से वन विभाग से इसकी भरपाई के लिए गुहार लगाने पर मजबूर हैं। किसान केदार ने आगे बताया कि

सम्बंधित रेंज ऑफिसर से संपर्क कर जानकारी देनी चाही तो उनका फोन नहीं लगा, लेकिन हम किसान बृहस्पतिवार को मुलाकात कर इन सारी परेशानियों से अवगत कराया जाएगा।

बतातें चले कि वीटीआर से सटे खेतों में जंगलों से भटकर भोजन की तलाश में जंगली जानवर चले आते है । जिससे किसानों को भारी कीमत चुकानी पड़ती है।

हालांकि शिकायत करने पर वन विभाग कुछ मुआवजे की राशि देकर मदद करती है,जो नाकाफी साबित होता है। किसानों का कहना है कि मुआवजे की राशि से क्या होगा,

हमारी तो रोजी रोटी का यही जरिया है, जिससे परिवार का भरण-पोषण किया जाता है। बतादें जंगली जीवों से नुकसान होने से लगभग सैकड़ो किसान परेशान हैं।

संतपुर, घोटवा तोला,रामपुरवा, रहुआ टोला, गोरार, गोनौली, चंपापुर, कंघुसरी, आदि दर्जनों गांवों के किसान जंगली सुअर, भालू, हिरन, गेंडा, नीलगाय,

तेंदुआ आदि जानवरों से जानमाल सहित फसलों से हुए आर्थिक परेशानियों की मार झेल रहे हैं। ज्ञात हो कि गेंडे के पीछे इनकी निगरानी के लिए वनकर्मी की एक टीम लगाई गई है

जो इसकी गतिविधियों सहीत इसके लोकेशन की जानकारी इकट्ठी करती रहती है। ताकि इस दुर्भग बेशकीमती गेंडे को किसी भी प्रकार का नुकसान नहीं पहुंच सके।

इसके बावजूद गेंडे के द्वारा खेतो पर पहुंचकर नुकसान कर देना कहीं न कहीं वनकर्मियों की लापरवाही और गेंडे की सुरक्षा से खिलवाड़ हो रहा है।