newsdog Facebook

सुजाता पर हमला, सौमित्र खाने बोले- ‘उन्हें दादागिरी करने नहीं जाना चाहिए था’

Kolkata 24x7-Hindi 2021-04-06 00:00:00
फाइल फोटोः सुजाता और सौमित्र

कोलकाताः लंबे समय से मतदान नहीं कर पाने को लेकर लोगों में गुस्सा दिखा है। सुजाता को दादागिरी नहीं करनी चाहिए थी। आरामबाग से टीएमसी उम्मीदवार सुजाता मंडल खान पर मंगलवार को हुए हमले के बाद बीजेपी के सांसद सौमित खान ने ये बाते कही। बता दें कि सौमित्र खान सुजाता के पति हैं। कुछ महिने पहले सुजाता टीएमसी में शामिल हुईं। इसके बाद ही सौमित्र खाने ने उन्हें तलाक का नोटिस भेजा था।

इस दिन आरामबाग के एक बूथ पर पहुंची सुजाता मंडल को भीड़ ने लाठी और बांस लेकर घेर लिया। तृणमूल उम्मीदवार के सुरक्षा गार्ड उन्हें बचाने की कोशिश करते रहे, इसी बीच एक ने तृणमूल उम्मीदवार के सिर पर बांस से हमला कर दिया। उनका निजी सुरक्षा गार्ड भी घायल हो गया है। ऐसे में स्थिति को देखते हुए सुजाता को खेत से भागना पड़ा। इस दौरान लोग सुजाता को बांस लेकर दौड़ाते नजर आए।

इस घटना के बारे में पूछे जाने पर, सौमित्र खान ने कहा, उस बूथ के लोग 10 साल से वोट नहीं दे पा रहे हैं। ग्राम पंचायत, पिछली विधानसभा से लोकसभा, वहां की जनता कभी वोट नहीं डाल पाई। यह मानवीय आक्रोश की अभिव्यक्ति है। उन लोगों को वोटे देने से रोके जाने के खिलाफ उनका यह मानवीय आक्रोश था।

सौमित्र खान ने कहा कि किसी भी उम्मीदवार को यह देखने के लिए नहीं जाना चाहिए कि वे कहां मतदान करेंगे। इसलिए मैं वहां जाऊंगा और दादागिरी करूंगा, यह किसी उम्मीदवार के लिए नहीं होना चाहिए, न ही सुजाता के लिए।

उल्लेखनीय है कि टीएमसी उम्मीदवार सुजाता मंडल ने आरोप लगाया है कि अरंडी- I में अल्पसंख्यक मतदाता ममता बनर्जी को पसंद करते हैं। इसीलिए कल रात को बीजेपी समर्थकों ने महिला मतदाताओं को धमकाया और प्रताड़ित किया।

वहीं बीजेपी ने सुजाता मंडल में अशांति फैलाने का आरोप लगाया। स्थानीय बीजेपी कार्यकर्ताओं ने का आरोप है कि सुजाता मंडल के साथ आए टीएमसी उम्मीदवारों ने बीजेपी समर्थकों पर हमला किया। घटना की खबर मिलने के बाद मौके पर केंद्रीय बल के जवान पहुंचे हैं।