newsdog Facebook

रोडवेज सेवानिवृत्त कर्मचारी कल्याण समिति ने दिया बस डिपों पर धरना, मांगों के निराकरण की मांग

Panchdoot 2021-04-07 20:35:56

हनुमानगढ़। राजस्थान रोडवेज सेवानिवृत्त कर्मचारी कल्याण समिति द्वारा बुधवार को जंक्शन रोडवेज बस डिपो का सेवानिवृत्त कर्मचारियों को सेवानिवृत्ति परिलाभों का मय ब्याज का भुगतान सहित अन्य मांगों को लेकर एक दिवसीय धरना प्रदर्शन देकर रोष व्यक्त किया। राजस्थान रोडवेज सेवानिवृत्त कर्मचारी कल्याण समिति के सदस्य पृथ्वी महला ने बताया कि माह अगस्त 2016 से प्रतीक्षारत सेवानिवृत्त कर्मचारियों को सेवानिवृत्ति परिणामों का भुगतान नहीं किया गया माननीय राजस्थान उच्च न्यायालय जयपुर जोधपुर ने सेवानिवृत्ति लाभों का भुगतान में ब्याज 6 माह में सेवानिवृत्ति की वरिष्ठता से करने के आदेश दिए हुए हैं किंतु प्रति 6 माह में जिन वरिष्ठ सेवानिवृत्ति कर्मचारियों का क्रम पड़ता है उन्हें भी भुगतान नहीं किया गया, निगम से पेंशन प्राप्त करने वाले सेवानिवृत्त कर्मचारियों को समय पर पेंशन का भुगतान किया जाए, निगम की सेवा से सेवानिवृत्त होने वाले अंशदाई भविष्य निधि से नियंत्रित सेवानिवृत्त कर्मचारियों को कर्मचारी भविष्य निधि संगठन से कर्मचारी पेंशन योजना 1995 के अंतर्गत देय पेंशन के कलेम समस्त पूर्ति के उपरांत निगम सर से कर्मचारी भविष्य निधि संगठन को नहीं भेजे जा रहे हैं जिन्हें समय पर भिजवाया सुनिश्चित कर संबंधित कर्मचारियों को सूचित किया जाए, सेवानिवृत्त चालको एवं परिचालकों को उनके सेवाकाल के बकाया अधिकतम भत्ते रात्रि विश्राम भत्ता, साप्ताहिक एवं राजपत्रित अवकाश पर किए गए कार्य की एवज में क्षतिपूर्ति भुगतान सेवानिवृत्त परिणामों के साथ नहीं किया जाता और ऑडिट के नाम पर मोटर ट्रांसपोर्ट वर्कर्स एक्ट के प्रावधानों के विपरीत नाजायज कटौती की जा रही है, निगम के सेवारत एवं सेवानिवृत्त कर्मचारियों को राज्य कर्मचारियों एवं पेंशनर्स की भांति राजस्थान सिविल सेवा पुनरीक्षित वेतनमान 2017 के अनुसार सातवां वेतनमान एवं पेंशन संशोधन का लाभ दिया जाए, निगम के सेवानिवृत्त कर्मचारियों को राजस्थान सरकार के पेंशनर्स की भांति चिकित्सा सुविधा सहित आठ सूत्री मांगों का मांग पत्र मुख्यमंत्री ,परिवहन मंत्री ,मुख्य सचिव, प्रमुख शासन सचिव ,परिवहन आयुक्त एवं राजस्थान परिवहन निगम के अध्यक्ष एवं प्रबंध महोदय को भेजा गया। इस मौके पर सेवानिवृत्त कर्मचारी पृथ्वी महला, अमर सिंह, दरवेश गोयल, वेद प्रकाश शर्मा, लियाकत अली ,सुभाष डाबला, अशोक कुमार, शिशुपाल गोदारा, देवेंद्र सिंह ,गोपाल राम ,अर्जुन यादव, रामगोपाल सहित सेवानिवृत्त 26 कर्मचारी मौजूद थे।